IIT के छात्रों को डिग्री से पहले ही 13 लाख तक का भत्ता, जानें क्यों मिल रहा इतना ये पैकेज

0
15

निशंक न्यूज़ 

अमृतांश बाजपेई 

आईआईटी कानपुर के छात्र हमेशा से ही प्लेसमेंट और नए नए शोधों के कीर्तिमान लिखते आये हैं| अब प्लेसमेंट और पैकेज में रिकार्ड बनाने के बाद आई आई टी कानपुर  के छात्रों ने इंटर्नशिप में भी धाक जमानी शुरू कर दी है। कंपनियां अपनी सुविधा के लिए तीसरे साल से ही छात्रों को अच्छे स्टाइपेंड पर इंटर्नशिप करा रहीं हैं। तीन महीने से छह महीने की होने वाली इंटर्नशिप में छात्र यहीं से ऑनलाइन काम कर अनुभव लेंगे, साथ ही अपनी पढ़ाई भी जारी रखेंगे।

देश-विदेश की कंपनियां आईआईटी कानपुर की मेधा की इतनी मुरीद हैं कि यहां के छात्रों को तीसरे साल में ही इंटर्नशिप का मौका दे रही हैं। वह भी 13 लाख तक के भारी भरकम मासिक स्टाइपेंड के साथ। इस साल 332 छात्र-छात्राओं ने इन कंपनियों में इंटर्नशिप का आमंत्रण स्वीकार किया है। इंटर्नशिप के बाद कहीं और नौकरी न करने लगें, इसके लिए भी कंपनियां छात्रों पर डोरे डाल रही हैं। 273 छात्रों को पहले से ही नौकरी (प्री प्लेसमेंट) का प्रस्ताव भी दिया है। इनमें से 172 ने नौकरी स्वीकार कर ली है। इन्हें औसतन सालाना 22 लाख का पैकेज दिया गया है। 

दूसरे संस्थानों में भी बढ़ा इंटर्नशिप का क्रेज
आईआईटी के अलावा अन्य यूनिवर्सिटी और संस्थानों में भी इंटर्नशिप का क्रेज बढ़ा है। आईआईटी के अलावा एचबीटीयू में भी 202 छात्रों को इंटर्नशिप करने का मौका मिला। वहीं, छत्रपति शाहूजी महाराज विवि में भी इंटर्नशिप की शुरुआत हुई है। पीएसआईटी में तो तीसरे साल में ही छह छात्र-छात्राओं को 38 लाख रुपये का पैकेज ऑफर हुआ है। इंटर्नशिप छात्रों के लिए बेहद जरूरी है। छात्रों का अनुभव बढ़ता है। कंपनियों को भी प्लेसमेंट देने में आसानी होती है। अधिकतर कंपनियां इंटर्न को ही कंपनी में जॉब ऑफर करती हैं। – आईआईटी निदेशक, प्रो. अभय करंदीकर