यूपी में कोरोना वायरस के सभी सैम्पल मिले निगेटिव

0
140

आगरा की रिपोर्ट अभी आनी बाकी…

निशंक न्यूज।

लखनऊ: चीन समेत कई देशों की त्रासदी बने कोरोना वायरस ने यूपी में भी दस्तक दे दी है। हालांकि इस बीच बुधवार को राहत भरी खबर भी आई है। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा है कि आगरा के छह लोगों के अलावा जितने भी सैम्पल लिये गए थे, सभी जांच में निगेटिव पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि नोएडा में स्कूली छात्रों का भी सैम्पल निगेटिव मिला है। इसके साथ ही लखनऊ में दुबई से आये व्यक्ति की जांच रिपोर्ट में भी वायरस की पुष्टि नहीं हुई है। प्राथमिक रूप से आगरा में पॉजिटिव छह संदिग्धों के सैम्पल पुणे भेजे गए हैं, जिनकी रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। उन्होंने आगरा के लोगों से अपील की है कि परेशान होने की जरूरत नहीं है। सरकार ने आगरा में 25 टीमें लगाई गई हैं, जो अपना काम पूरी सजगता से काम कर रही है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के कई मामले सामने आने के बाद हवाई अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर सतर्कता बढ़ा दी गई है। यहां एंबुलेंस व चिकित्सा टीम के सदस्य तैनात कर दिए गए हैं। जांच टीम गंभीरता से निगरानी कर रही है। इसको लेकर आने और जाने वालों को जागरूक किया जा रहा है। यूपी की सीमाओं पर भी पर्याप्त चौकसी बरती जा रही है। अभी तक 9.52 लाख लोगों की स्क्रीनिंग की गई और उसके बाद उन्हें यूपी में प्रवेश दिया गया है। वाराणसी में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी होने के बाद लालबहादुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट बाबतपुर पर स्कैनिग मशीन लगा दी गई है। वहीं परिसर में संबंधित क्षेत्र में काम करने वाले विभागीय कर्मियों को मास्क लगा कर काम करने के निर्देश दिए गए हैं।

आगरा के कारोबारी सगे भाई अपने परिवार और दिल्ली में रह रहे रिश्तेदारों सहित 19 लोग इटली घूमने गए थे। 25 फरवरी को लौट आए। सोमवार को जांच के दौरान दिल्ली के एक रिश्तेदार में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसी दहशत में कारोबारी परिवार ने भी आगरा जिला अस्पताल पहुंच अपनी जांच कराई थी। सभी 13 लोगों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में ही भर्ती कर लिया गया था। मंगलवार सुबह केजीएमयू लखनऊ से आई जांच रिपोर्ट में कारोबारी दोनों भाई, दो महिलाएं, एक बच्चा और एक युवक में कोरोना वायरस (सीओवीआईडी-19) की पुष्टि हुई। ये रिपोर्ट आते ही सभी छह लोगों को एंबुलेंस से सफदरजंग हॉस्पिटल, दिल्ली भेज दिया गया। परिवार के सात अन्य सदस्य जिनकी रिपोर्ट निगेटिव है की उनके घर पर ही आइसोलेशन वार्ड बनाकर निगरानी की जा रही है। आगरा के सीएमओ डॉ. मुकेश वत्स ने बताया कि दिल्ली भेजे गए छह लोगों के सेंपल वायरस की पुष्टि के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे भेजे गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कोरोना वायरस से बचाव व प्रभावी नियंत्रण के लिए 23 सदस्यीय राज्य स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलाधिकारियों व मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को विशेष सर्तकता बरतने और अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इससे बचाव के लिए जरूरी सभी उपाए किए जाएं और लोगों को इलाज के लिए बेहतर सुविधाएं दी जाएं। सरकार ने 12 देशों से आने वाले लोगों पर विशेष नजर रखने का निर्देश दिया है। इनमें चीन, हांगकांग, सिंगापुर, थाइलैंड, दक्षिण कोरिया, जापान, मलेशिया, इंडोनेशिया, वियतनाम, नेपाल, इटली और ईरान शामिल हैं।