काकोरी कांड के नायकों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नमन

0
43

लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को लखनऊ में काकोरी कांड के वीरों को नमन किया , उन्होंने कहा कि काकोरी ट्रेन एक्शन केवल खजाना लूटने की घटना नहीं थी। इस घटना के जरिए आजादी के दीवानों ने अंग्रेजी हुकूमत को सीधी चुनौती थी। काकोरी कांड का ऐतिहासिक मुकदमा लगभग 10 महीने तक लखनऊ की अदालत रिंग थियेटर में चला था। बताया जाता है कि छह अप्रैल 1927 को इस मुकदमे का फैसला हुआ था। जिसमें रामप्रसाद ‘बिस्मिल’, राजेंद्रनाथ लाहिरी, रोशन सिंह और अशफाक उल्ला खां को फांसी की सजा सुनाई गई थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आप सभी का आह्वान करता हूं कि देश के उन क्रांतिकारियों की प्रेरणा से अनुप्रेरित होकर भारत की स्वतंत्रता को अक्षुण्य बनाए रखने व भारत को दुनिया में महाशक्ति के रूप स्थापित करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प के साथ जुड़ें। उन्होंने कहा कि भारत की स्वाधीनता क्रांतिकारियों के बलिदान का परिणाम है। हमारी इन क्रांतिकारियों की प्रेरणा से स्वतंत्र भारत के उन्मुक्त वातावरण में देश के विकास-लोककल्याण के लिए, गांव-गरीब, किसान, महिलाएं तथा समाज के प्रत्येक तबके के विकास के लिए कार्य कर रही है।