महाभियान है ‘स्वच्छता’ आजादी के अमृत महोत्सव में

0
10

सेंट फ्रांसिस जेवियर्स इंटर कॉलेज में आयोजित किया गया विशेष जन-जागरूकता कार्यक्रम

प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में हुए पुरस्कृत 20 छात्र

वेद गुप्ता

निशंक न्यूज/कानपुर। स्वच्छता को पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाले महाभियान की महत्वता को जन-जन, विशेषकर स्कूली बच्चों तक पहुंचाने के अद्देश्य से आज सेंट फ्रांसिस जेवियर्स इंटर कॉलेज, अशोक नगर, में एक विशेष जन-जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। साथ ही भारत की आजादी के अमृत महोत्सव के बारे में विद्यार्थियों व शिक्षकों संग परिचर्चा की गई।

कार्यक्रम का आयोजन ‘स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत आजादी का अमृत महोत्सव’ विषय पर क्षेत्रीय लोकसंपर्क ब्यूरो, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार, बांदा इकाई द्वारा कानपुर नगर में किया गया।

इस अवसर पर एक प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन कर 20 प्रतिभागियों को सही जवाब देने पर विभाग द्वारा पुरस्कृत किया गया। प्रतियोगिता में संवाद पश्चात पूछे गए सभी सवाल स्वच्छ भारत अभियान और अमृत महोत्सव से संबंधित थे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी गौरव त्रिपाठी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में कहा है कि ‘स्वच्छता हर किसी का, हर दिन, हर पखवाड़े, हर साल, पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाला महाभियान है। साथ ही कहा कि स्वच्छ भारत मिशन का लक्ष्य शहरों को पूरी तरह से कचरे से मुक्त करना है। इसी लिए इस महाभियान को सफल बनाने के लिए उत्साही जन-भागीदारी अत्यंत आवश्यक है।

कार्यक्रम में बच्चों को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से स्वच्छता व आजादी के अमृत महोत्सव के महत्व के बारे में मनोरंजक ढंग से बताया गया।

आजादी के अमृत महोत्सव पर क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी ने बताया कि आजादी के आंदोलन में कानपुर के

महान क्रांतिकारियों का बहुआयामी अमर बलिदान और योगदान रहा है। ऐतिहासिक बिठूर भी कानपुर की शान है। अमर क्रांतिकारी भगत सिंह की साक्षी प्रताप प्रेस आज भी इस शहर की अमूल्य धरोहर है। पत्रकारिता के परम पुरोधा व महान क्रांतिकारी गणेश शंकर विद्यार्थी की इस भूमि के कलमकारों ने भी ब्रिटिश हुकूमत से लोहा लिया व पराजित किया। ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा, झंडा ऊंचा रहे हमारा’ जैसे गीत के रचनाकार राष्ट्र गौरव कवि श्याम लाल गुप्ता ‘पार्षद’ जी का जन्म भी इसी कानपुर की भूमि में हुआ है। विद्यार्थियों को अपने शहर के आजादी के आंदोलन के अमर शहीदों के बारे में अवश्य जानना चाहिए।  

कार्यक्रम में विद्यालय के प्रधानाचार्य फादर राजेश साइमन ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन- शहरी और कायाकल्प एवं शहरी सुधार के लिए अटल मिशन (अमृत) के दूसरे चरण की शुरुआत देश में हो चुकी है। हम सबका लक्ष्य है कि शहर को पूर्ण रूप से कचरा मुक्त किया जाए। यह हमारी सामूहिक ज़िम्मेदारी से ही संभव होगा। साथ ही फादर साइमन ने कहा कि आजादी के इस महोत्सव में युवा पीढ़ी को अपने महान क्रांतिकारियों के बलिदान और संघर्षों के बारे में अवश्य जानना चाहिए।

कार्यक्रम में हुई प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के विजेता छात्र हैं ऋषभ श्रीवास्तव, निर्मल सिंह, शुभंशु कुशवाहा, करण श्रीवास्तव, अविनेश कुमार गौतम, अविनाश शुक्ला, मानस गुप्ता, आयुष श्रीवास्तव, अभिनव कुमार, अंकित गुप्ता, प्रदीप तिवारी, दिव्यान्शु दीक्षित, अखंड प्रताप सिंह, आयुष श्रीवास्तव, निखिल साहू, किसन सिंह, शैलेश शर्मा, करण चौरसिया, आदित्य कनौजिया और यश जयसवाल।

स्वच्छता और आजादी का अमृत महोत्सव के संदेश को विभाग के पंजीकृत ‘अनुकृति सांस्कृतिक दल के कलाकारों द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को रुचिकर अंदाज में दिया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से उपस्थित लोग थे विभाग के तकनीकी सहायक अशोक कुमार विश्वकर्मा, विद्यालय के शिक्षक कामता सिंह परिहार, दिनेश अवस्थी, एडवर्ड एंड्रू ओस्टा, मनोज कुमार सिंह, विन्सेंट जैकब व अजय त्रिपाठी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here