किसानों के ऊपर किसान विरोधी काले कानून जबरन लादकर सरकार उत्पीड़न कर रही हैः डॉ इमरान

0
11

केंद्र की भाजपा सरकार के इशारे पर मीडिया के दफ्तरों में सीबीआई के छापे

वेद गुप्ता

निशंक न्यूज/कानपुर। समाजवादी पार्टी कानपुर महानगर के तत्वाधान में देश में कायम लोकतंत्र के चौथे स्तंभ मीडिया के कार्यालयों एवं किसान विरोधी तीनों काले कानून जबरन किसानों के ऊपर थोपने के विरोध में आज नगर अध्यक्ष डॉ इमरान के नेतृत्व में संविधान के निर्माता डॉक्टर बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा स्थल नाना राव पार्क में मेघदूत होटल के सामने विशाल धरना संपन्न हुआ। धरने का संचालन नगर उपाध्यक्ष अजय यादव अज्जू ने किया।

धरने को संबोधित करते हुए नगर अध्यक्ष डॉ इमरान ने अपने संबोधन में कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार के इशारे पर लोकतंत्र का चौथा स्तंभ मीडिया की आजादी को छीनकर खुलेआम लोकतंत्र की हत्या कर रही है कोरोना कॉल में सरकार की नाकामी को जनता के सामने उजागर करने वाली प्रेस मीडिया के दैनिक भास्कर के दफ्तरों मैं और भारत समाचार के चीफ के निवास पर सीबीआई द्वारा छापेमारी कराकर प्रेस की आवाज को दबाया जा रहा है जो कि लोकतंत्र में बिल्कुल सही नहीं है केंद्र की भाजपा सरकार अपनी नाकामी को छुपाने के लिए इस तरह के हथकंडे अपनाकर मीडिया का उत्पीड़न  कर जनता का ध्यान भटकाने का कार्य कर रही है।

डॉ इमरान ने आगे बताया कि केंद्र की भाजपा सरकार कह रही है कि ऑक्सीजन की कमी से कोरोनावायरस से एक भी व्यक्ति की मृत्यु नहीं हुई है जबकि हजारों कोरोनावायरस पीड़ितों  ने ऑक्सीजन की कमी के कारण अपनी जान गवाई है सरकार इस मुद्दे पर सरासर झूठ बोल रही है।

नगर अध्यक्ष डॉ इमरान ने आगे बताया कि दूसरी तरफ केंद्र की भाजपा सरकार देश के किसानों के ऊपर कृषि विरोधी काले कानून जबरन थोप कर किसानों की खेती हड़पने का षड्यंत्र कर रही है अंबानी अडानी के इशारे पर केंद्र की भाजपा सरकार कांट्रैक्ट खेती को बढ़ावा देकर किसानों की जमीन हड़पना चाहती है केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा किसानों की फसल का उचित समर्थन मूल्य को लागू नहीं कर रही है।

डॉ इमरान ने आगे बताया कि आज देश का किसान हमारा अन्नदाता सरकार द्वारा फसल का समर्थन मूल्य निर्धारित ना करने के कारण किसान अपनी फसलें खेतों में जलाने या फिर ओने पौने दामों पर बेचने को मजबूर हैं केंद्र की भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण हमारा देश का अन्नदाता आत्महत्या करने को मजबूर है केंद्र सरकार को शायद किसानों से कोई हमदर्दी नहीं रह गई है इसीलिए तो आज 8 महीनों से किसान सिंधु बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं परंतु सरकार कुंभ करणी नींद से नहीं जाग रही है केंद्र सरकार को यह पता होना चाहिए कि जब तक देश का किसान खुशहाल नहीं होगा तब तक देश तरक्की नहीं कर सकता किसान अगर खेतों में फसल पैदा नहीं करेगा तो देश की जनता भूखों मर जाएगी किसान द्वारा उगाई गई फसल से देश की जनता का पेट भरता है केंद्र की भाजपा सरकार ने किसान और जवान में काफी अंतर पैदा कर दिया है जब देश का जवान सरहद पर बरसात सर्दी गर्मी को सहन कर देश की सीमाओं की सुरक्षा करता है तब जाकर देश की जनता चैन की नींद सो पाती है बड़े-बड़े उद्योगपति किसानों से सीधे फसल औने पौने दामों में खरीदकर बाद में वही फसल बढ़े दामों में बेचकर भारी मुनाफा कमाएंगे केंद्र की भाजपा सरकार ने किसान की आय बढ़ाने के नाम पर किसान विरोधी तीनों काले कानून जबरन थोप कर किसानों की पीठ पर छुरा भोंक कर विश्वासघात किया है।

धरने के अंत में राजपाल महोदय के नाम एक संबोधित ज्ञापन डीसीपी कोतवाली को नगर डॉक्टर इमरान अपने हाथों से सौंपा ज्ञापन लेने के बाद डीसीपी कोतवाली ने बताया कि आपकी मांगो का यह ज्ञापन जल्दी राज्यपाल महोदय के पास पहुंचाया जाएगा।

धरने में नगर महासचिव अभिषेक गुप्ता मोनू नगर उपाध्यक्ष अजय यादव जी नरेंद्र सिंह पिंटू ठाकुर राम कुमार एडवोकेट अम्बर त्रिवेदी टिल्लू जायसवाल जमालुद्दीन जुनैदी मधु यादव दीपक खोटे रमेश यादव रणवीर यादव निजाम कुरेशी श्रेष्ठ गुप्ता निखिल यादव रियाज बबलू शरद पांडे अमित चौरसिया अन्नू गुप्ता नूरी शौकत नीलम रोमिला सिंह अजय श्रीवास्तव अनवर अहमद जुगनू अनिल मिश्रा मोहम्मद नसीम अक्षत श्रीवास्तव गोपाल ठाकुर शाहनवाज आबिद जीशान अहमद प्रमोद यादव चांद मियां उदय द्विवेदी मोहम्मद इकबाल मोहम्मद इब्राहिम सादिक अली अनुज निगम मुनाफ उद्दीन मोहम्मद सरिया इंद्रजीत यादव सूरज प्रताप यादव चांद मियां बलदेव यादव हाजी यूनुस बदरे पप्पू मिर्जा रितेश सोनकर राजेंद्र कनौजिया सरला शुक्ला बलवंत सिंह और सगीर अहमद शेषनाथ यादव पंकज वर्मा दुर्गेश यादव लियाकत अली अनिल चौबे आदि सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।