चित्रकूट में साकेत एक्सप्रेस के रिजर्वेशन कोच में मिले 140 कछुए

0
77

जीआरपी ने मानिकपुर वाइल्ड लाइफ को सौंपे

निशंक न्यूज

चित्रकूट। रानीपुर वन्यजीव विहार की टीम और जीआरपी के संयुक्त छापे में सोमवार को साकेत एक्सप्रेस के आरक्षित कोच में 140 कछुए मिले। जीआरपी किसी तस्कर को गिरफ्तार नहीं कर सकी है, लेकिन यात्रियों ने प्रयागराज स्टेशन से बैग को कोच में देखे जाने की जानकारी दी है। फिलहाल कछुओं को मानिकपुर वाइल्ड लाइफ को सौंपा गया है और प्रकरण की जांच जीआरपी कर रही है।

जीआरपी मानिकपुर थाना को रविवार की शाम करीब साढ़े सात बजे कंट्रोल रूम झांसी से सूचना मिली कि ट्रेन नंबर 01068 साकेत एक्सप्रेस के कोच नंबर- डी -2 के बर्थ नंब -51 के नीचे लावारिस बैग रखा है, जिसमें कछुए हैं। इसपर रानीपुर वन्य जीव विहार के रेंजर त्रिभुवन प्रसाद सिंह की टीम व आरपीएफ के एएसआई अशोक कुमार और कांस्टेबल राकेश मीना व जीआरपी से निरीक्षक दिलीप कुमार मिश्रा, उपनिरीक्षक हरिओम मिश्रा की टीम मानिकपुर रेलवे स्टेशन पहुंचकर ट्रेन आने का इंतजार करने लगी। साकेत एक्सप्रेस प्लेटफार्म नंबर एक पर पहुंची तो टीम ने कोच नंबर-2 को घेर लिया। पुलिस कर्मी अंदर गए और बर्थ नंबर 51 के नीचे रखे लावारिस काले बैग को खोलकर देखा, जिसमें 140 जिंदा कछुए मिले।

जीआरपी इंस्पेक्टर दिलीप कुमार मिश्र ने बताया कि यात्रियों से पूछताछ करने पर जानकारी मिली कि बैग प्रयागराज स्टेशन से देखा गया था। बैग के बारे में जानकारी की गई लेकिन किसी यात्री ने नहीं बताया। यात्री राजेंद्र सिंह ने रेलवे कंट्रोल रूम झांसी को लावारिस बैग की सूचना दी थी। ट्रेन से बैग उतार लिया गया और कछुओं को रेंजर मानिकपुर वाइल्ड लाइफ की सुपुर्दगी मे दिए गए हैं। रेंजर ने बताया कि बरामद सभी कछुए अभी छोटे हैं।