गाजियाबाद के अस्पताल में 3 मरीजों की संदिग्ध हालात में मौत, हंगामा

0
79

निशंक न्यूज

गाजियाबाद। पांडवगर स्थित सर्वोदय सुपरस्पेशलिटी अस्पताल में सोमवार सुबह संदिग्ध हालात में तीन मरीजों की मौत हो गई। तीनों ही कोरोना से उबर चुके थे, जिसके बाद भी इनकी तबीयत में सुधार नहीं हुआ। इस कारण स्वजन ने यहां भर्ती कराया था। तीनों मरीजों ने आधे घंटे के अंतराल पर दम तोड़ दिया। स्वजन ने आक्सीजन आपूर्ति बाधित होने के चलते मरीजों की मौत होने का आरोप लगा हंगामा किया, जिसके बाद पुलिस भी अस्पताल पहुंची और लोगों को शांत कराया।

अस्पताल में सतीश शर्मा (62) सविता शर्मा (52) और मोना गंभीर(54) का इलाज चल रहा था। स्वजन के मुताबिक तीनों को पहले कोरोना हुआ था। इलाज के बाद रिपोर्ट तो नेगेटिव आ गई, लेकिन तबीयत दोबारा खराब होने लगी। लोगों का कहना है कि सोमवार सुबह अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से अचानक आक्सीजन की सप्लाई बाधित हो गई, जिस कारण तीनों मरीजों की मौत हो गई।

अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनोज जैन ने किसी भी लापरवाही से इन्कार कर कहा कि तीनों मरीजों की मौत मल्टीपल आर्गन फेलियर की वजह से हुई थी। कोरोना के चलते इनके फेफड़े खराब हो चुके थे। इसी हालत में इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तीनों वेंटिलेटर पर थे।

डॉ. मनोज ने कहा कि अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई की केंद्रीयकृत व्यवस्था है। इन तीन के अलावा अस्पताल में 35 से अधिक मरीज भर्ती हैं। अधिकांश आक्सीजन पर ही हैं। करीब 20 आइसीयू में हैं। यदि आक्सीजन सप्लाई बाधित हुई होती तो सभी मरीजों पर इसका असर होता। डॉ. मनोज ने कहा कि इन तीन मरीजों को बचाने का काफी प्रयास किया, लेकिन नाकाम रहे। साथ ही उन्होंने स्वजन पर अस्पताल के स्टाफ से गाली-गलौज व हाथापाई का आरोप लगाया। कहा कि वह प्रशासन से इसकी शिकायत करेंगे।