रायबरेली के लालगंज में रेल कोच फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुकसान

0
130

निशंक न्यूज

रायबरेली। आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना लालगंज में अचानक आग लग गई। जिससे वहां अफरा तफरी मच गई। आनन-फानन पहुंची अग्निशमन टीम ने आग पर काबू पाया। हालांकि आग बुझने से पहले यहां लाखों का नुकसान हो चुका था।बताया गया कि आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना लालगंज के सेल शाप के बगल में एमएनसी लैब स्थित है, जहां पर कारखाना आने वाले रेल डिब्बा निर्माण से संबंधित सामानों की टेस्टिंग की जाती है। इसी के बगल में हिंदुस्तान फाइबर कंपनी द्वारा मंगवाए गए कोच में प्रयुक्त होने वाले शौचालयों के ढांचे रखे थे। बुधवार की सुबह लगभग 10:00 बजे अचानक  स्टोर में रखे शौचालय के ढांचे में आग लग गई। इसके चलते लगभग आधा दर्जन ढांचे आग की चपेट में आ गए। धू धूकर जलते शौचालयों के ढांचे से उठती आग की लपटें देख कर्मचारियों में खलबली मच गई। आनन फानन इसकी सूचना अधिकारियों व अग्निशमन दल को दी गई।

फायर ब्रिगेड टीम ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। यदि समय रहते आग पर काबू न पाया जाता तो नुकसान और बढ़ जाता । अग्निकांड के चलते लगभग कितने का नुकसान हुआ है,इस बाबत जानकारी के लिए मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीके दुबे को कई बार फोन किया गया लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया। वहीं दबी जुबान कर्मचारियों ने बताया कि लगभग 5 से 6 लाख की क्षति अनुमानित है।

आग लगने का कारण अज्ञात है। उल्लेखनीय है के अति सुरक्षित कहे जाने वाले आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना लालगंज में अग्निकांड की यह कोई पहली घटना नहीं है।इसके पहले भी कई बार अग्निकांड हो चुके हैं। हर बार आरेडिका  प्रशासन  स्क्रैप में आग लगने की बात कहकर मामले से पल्ला झाड़ लेता है। इस बार लाखों रुपये कीमत का सामान जलकर राख हुआ है। अब देखने वाली बात है कि यह संयोग है किसी की शरारत। इसकी पुष्टि फिलहाल जांच के बाद ही हो सकेगी।