मोदीनगर में कुट्टू खाने से बिगड़ी 50 लोगों की हालत

0
20

निशंक न्यूज

मोदीनगर। सीकरी खुर्द गांव व उसके आसपास की कालोनियों में मंगलवार की रात को कुट्टू खाने से 50 लोगों की तबीयत बिगड़ गई। सभी को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलने के बाद हरकत में आए प्रशासन व खाद्य सुरक्षा विभाग ने दुकान को सील कर दिया। कुट्टू के सैंपल लेकर उसे जांच के लिए लखनऊ प्रयोगशाला भिजवाया है। इसके अलावा सारा गांव में भी कुट्टू खाने से कई लोगों की हालत बिगड़ गई। उनको भी अस्पताल में भर्ती कराया है।

सीकरी खुर्द गांव निवासी रिकु सीकरी खुर्द रोड पर फाटक के समीप किराना की दुकान करते हैं। उनकी दुकान से मंगलवार को नवरात्र के चलते कई परिवारों ने कुट्टू का आटा खरीदा था। इनमें ज्यादातर लोग सीकरी खुर्द, संजीवनी एस्टेट, बलवंतपुरा समेत आसपास की कालोनियों के थे। इनमें जिन लोगों का व्रत था, उन्होंने कुट्टू की पूरी, परांठे, पकौड़े आदि खाए थे। खाने के दो घंटे बाद ही सभी की तबीयत बिगड़ गई। प्राथमिक उपचार के बाद भी जब उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ तो उनको अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया। बुधवार को दिन निकलते ही यह खबर शहर में तेजी के साथ फैल गई। अकेले जीवन अस्पताल में 18 मरीज भर्ती किए गए थे। डाक्टरों ने उनकी हालत खतरे से बाहर बताई। इसकी जानकारी मिलते ही सरकारी अमला हरकत में आ गया। एसडीएम आदित्य प्रजापति ने अस्पताल पहुंचकर मरीजों का हाल जाना और जिम्मेदार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कराने का भरोसा दिया। उन्होंने इस संबंध में अस्पताल प्रबंधन से भी विस्तृत बात की। वहीं, खाद्य सुरक्षा विभाग की स्थानीय अधिकारी प्रशंसा सिंह ने दुकान पर पहुंचकर कुट्टू के सैंपल लिए। उन्होंने दुकान को सील कर दिया। प्रशंसा सिंह ने बताया कि सैंपल को लखनऊ प्रयोगशाला को भेजा गया है। दो सप्ताह में उसकी रिपोर्ट आएगी। इस दौरान दुकान सील रहेगी। रिपोर्ट के आधार पर ही दुकानदार के खिलाफ अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। प्रशंसा सिंह ने बताया कि जिस चक्की पर दुकानदार ने आटा पिसवाया था, उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। उधर, डीएम अजय शंकर पांडेय ने भी इस प्रकरण की रिपोर्ट एसडीएम मोदीनगर से मांगी है। उन्होंने इसकी निगरानी कर सख्त कार्रवाई कराने के अधीनस्थों को आदेश दिए हैं। -इनकी हालत है ज्यादा खराब: भूपेंद्रपुरी कालोनी निवासी पायल, शिवम, बबीता, प्रदीप, सीकरी खुर्द निवासी सुरेखा, रंजन, कुनाल, सुचेतापुरी कालोनी निवासी बबली, ऋषभ, प्रिस व सारा निवासी मोनिका, राधे, जैनेंद्र, विनय, कोटिल, राधेश्याम, विजयकांत आदि लोग जीवन अस्पताल में भर्ती हैं। इसके अलावा अन्य लोग दूसरे अस्पतालों में भर्ती हैं। कुछ को छुट्टी देकर घर भेज दिया गया है। – सारा में कई की हालत बिगड़ी:

कुट्टू के आटे से बनी सामग्री खाने से मंगलवार की रात को निवाड़ी थाना क्षेत्र के सारा गांव में भी कई लोगों की हालत बिगड़ गई। अफवाह मची कि किसी प्रत्याशी ने गांव में कुट्टू का वितरण कराया था। सभी को अलग अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया। एसएचओ निवाड़ी हरिओम सिंह ने बताया कि कुट्टू का आटा लोगों ने ठेली वाले से खरीदा गया था। इसकी जांच कराई जा रही है। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम से इस बारे में बात की गई है।