निर्भरता ही गुलामी है। इसके मकड़जाल से छुटकारा पाने वाला ही इतिहास रचता है।

0
291

...शैलेश अवस्थी