जालौन में धोखाधड़ी के मामले में तहसीलदार के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज

0
38

निशंक न्यूज

जालौन जालौन में धोखाधड़ी के मामले कालपी तहसीलदार के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज किया गया। तहसीलदार ने महिला की हाईवे किनारे की जमीन अभिलेखों में हेराफेरी कर दूसरे के नाम कर दी थी, जिस पर महिला ने कोर्ट की शरण ली थी जिस पर कालपी तहसीलदार समेत पांच लोगों के खिलाफ कालपी कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है।

बताया गया कि जालौन के आटा थाना क्षेत्र के भभुआ गांव की रानी देवी ने कोर्ट में फरियाद की थी। जिसमें बताया था कि वर्ष 2008 में उसरगांव मौजा में एक एकड़ जमीन विजय से खरीदी थी। दाखिल खारिज कर जमीन का नंबर भी अलग हो गया था। आरोप लगाया कि तहसीलदार, राजस्व कर्मियों व कुछ अन्य लोगों ने साजिश कर जमीन अन्य लोगों के नाम दर्ज कर दी। जमीन जितेंद्र आदि को बेच भी दी।

रानी ने कोर्ट को बताया था कि जानकारी होने पर तहसील में संपर्क किया, वहां पता चला कि पूरी जमीन दूसरे के नाम हो चुकी है। रानी ने तहसील के अधिकारियों से शिकायत की, कोतवाली में तहरीर दी, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इस पर कोर्ट की शरण ली।

इस मामले में कालपी सीओ ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर तहसीलदार शशिबिंद द्विवेदी समेत पांच लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।