कानपुर में होटलकर्मी की हत्या के पीछे थी ये कहानी, जानकार हो जाएंगे हैरान

0
115

एक महिला के दो पति और एक प्रेमी, त्रिकोणीय प्रेम कहानी का खूनी अंत

सुजीत सिंह

निशंक न्यूज/कानपुर । जूही के स्वदेशी कैंपस मिल में होटलकर्मी की हत्या का राज खुला तो सभी हैरान रह गए। हत्या के पीछे एक महिला वजह बनी, दो पतियों और एक प्रेमी से त्रिकोणीय प्रेम कहानी का अंत खूनी निकला। पुलिस ने सर्विलांस टीम की मदद से हत्यारोपित को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है लेकिन उसने जो कहानी बयां कि वह बेहद हैरान करने वाली है।

पहले पति को छोड़कर दूसरे शादी करने वाली रूपा अपने पति सुजीत और होटलकर्मी देवर प्रदीप के साथ ससुराल आई थी। यहां से उसका होटलकर्मी देवर अचानक लापता हो गया था। दूसरे दिन उसका शव स्वदेशी मिल कैंपस में मिला था। सिर कुचलकर उसकी बेरहमी से हत्या की गई थी। रूपा ने देवर की हत्या पर पहले पति सोनू पर संदेह जताया था। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने हत्या का जो सच कबूला उसे सुनकर सभी दंग रह गए। पुलिस ने हत्यारोपित की निशानदेही पर मृतक के कपड़े, खून से सना पत्थर बरामद करने के साथ आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

पुलिस के मुताबिक सोनू ने हत्या को अंजाम देने के बाद बाहर निकलकर एक ठेलिया दुकानदार का मोबाइल लूटा था। इसके बाद आरोपित ने अपनी मां को लूटे हुए मोबाइल से फोन करके हत्या करने और घर न आने की जानकारी दी थी। नए नंबर के आधार पर सर्विलांस टीम ने उसकी लोकेशन ट्रेस करके सोने लाल पटेल स्कूल के पास से गिरफ्तार किया।

आरोपित सोनू ने बताया कि छह साल पहले उसकी शादी रूपा से हुई थी, उससे ढाई साल की बेटी भी है। उस समय रूपा के होटलकर्मी प्रदीप से प्रेम चल रहा था और उससे रूपा के अवैध संबंध हो गए थे। उसने ससुराल में दोनों को आपत्तिजनक हालत में भी देखा था। इसपर काफी बहस भी हुई थी, इसके बाद रूपा ने उसे छोड़कर प्रदीप के भाई सुजीत से शादी कर ली थी। इससे खुन्नस और बढ़ गई थी। बीते दिनों रूपा, प्रदीप और सुजीत के आने की जानकारी हुई तो वह पहुंच गया था।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपित सोनू ने सुजीत को निशाना बनाने के लिए पहले शराब पीने के लिए बुलाया था, लेकिन वह झांसे में नहीं आया। बाद में उसने अवैध संबंधों की खुन्नस में प्रदीप को आफर किया और वह झांसे में आ गया और साथ चला गया।

सोनू ने बताया कि शराब पिलाने की बात कहकर वह प्रदीप को साथ ले गया था। स्वदेशी कैंपस में अधिक शराब पीने के बाद वह वहीं पत्थर पर लेट गया। पास पड़े पत्थर उसका सिर और चेहरा कुचल कर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसने कपड़े उतारकर कुछ दूर एक बड़े पत्थर के नीचे दबा दिए थे। एसपी साउथ दीपक भूकर ने बताया कि आरोपित की निशानदेही पर पत्थर के नीचे से मृतक के कपड़े और खून से सना पत्थर बरामद किया है।

प्रदीप के घर न लौटने पर कई बार फोन करके रूपा ने सोनू से प्रदीप के बारे में पूछा था। पहले तो वह टाल मटोल करता रहा। बाद में उसने झल्लाकर कहा था कि मार दिया प्रदीप को।

प्रदीप के पोस्टमार्टम में बेरहमी से हत्या करने की बात सामने आई है। सिर पर ताबड़तोड़ वार से उसके सिर की सभी हड्डियां चकनाचूर हो गई थीं।