कूटा शिक्षक संगठन विश्वविद्यालय की हठधर्मिता के खिलाफ,काली पट्टी बांध कर करेंगे कार्य,

0
80

वेद गुप्ता /प्रभात त्रिपाठी
निशंक न्यूज़

कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत शासन के निर्देशानुसार विश्वविद्यालय की स्नातक एवं परास्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षाओ के सुरक्षित एवं सुचारु रूप से सञ्चालन हेतु कतिपय सुझाव कानपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (कूटा) द्वारा विश्वविद्यालय प्रशासन के समक्ष प्रस्तुत किये जो प्रमुख रूप से शिक्षकों/छात्रों/ शिक्षणेत्तर कर्मियों की स्वास्थ्य सुरक्षा व्यवस्था हेतु अतिरिक्त अनुदान तथा परीक्षा पारिश्रमिक में शासन के निर्देशानुसार वृद्धि, जो कि विश्वविद्यालय की कार्यपरिषद द्वारा पारित है, के लागू करने सम्बंधित थे।

खेद का विषय है की परीक्षाएं शुरू हो जाने के उपरान्त भी विश्वविद्यालय प्रशासन इतने महत्वपूर्ण विषयों पर मौन है एवं अभी भी कुलपति, कुलसचिव अथवा परीक्षा नियंत्रक कार्यालय से तत्सम्बन्धी कोई भी आदेश नहीं निर्गत हुआ है। कूटा विश्वविद्यालय के इस उदासीन रवैये की निन्दा करता है। विश्वविद्यालय के इस उपेक्षापूर्ण व्यवहार के विरोध में सभी शिक्षक दिनांक 11 एवं 12 सितम्बर को बांह में काली पट्टी बांधकर परीक्षा सम्बन्धी कार्य करेंगे। यदि विश्वविद्यालय दिनांक 12 सितम्बर तक उपरोक्त सन्दर्भ में कोई निर्णय नहीं लेता है तो संगठन कठोर निर्णय लेने को बाध्य होगा जिसका समस्त उत्तरदायित्व विश्वविद्यालय प्रशासन का होगा। डॉ बी डी पाण्डेय , अध्यक्ष डॉ अवेधश सिंह , महामंत्री  ए आई फुफ्फुकट्टा उपाध्यक्ष डॉ विवेक द्विवेदी कामिनी शुक्ला राजपूत आरके राजोरिया आदि सभी शामिल रहे