50 वर्ष के ऊपर के मधुमेह के मरीजों की कोविड जांच जरूर करायें चिकित्सा अधिकारी,मंडलायुक्त कानपुर

0
1333

वेद गुप्ता /प्रभात त्रिपाठी
निशंक न्यूज़

कानपुर : मण्डलायुक्त डा0 सुधीर एम बोबडे की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में कोविड-19 संक्रमण के बचाव व रोकथाम के संबंध में बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में मण्डलायुक्त ने चिकित्साधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि 50 वर्ष से अधिक के जो भी डाइबटीज के मरीज है उनकी कोविड जाॅच अवश्य कराई जाए। उन्हांेने कोविड के इलाज में गम्भीर बीमारियों से ग्रसित रोगियों पर रूप से ध्यान दिये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने गम्भीर रोगियों को चिन्हित करते हुए उनका पहले से ही समुचित उपचार कराये जाने के निर्देश दिये है साथ ही सैम्पलिंग कार्य में और अधिक गति लाने की बात कही है। उन्होंने चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया कि पोर्टल पर सभी आवश्यक सूचनायें समय से दर्ज कराई जाये। उन्होंने कोविड-19 के रोकथाम व बचाव से जुडे सभी चिकित्सकों को निर्देशित किया है कि बैठक से संबंधित कार्यवृत के अनुसार ही सम्पूर्ण कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 ए0के0 सिंह को निर्देशित किया कि वे मुख्य चिकित्साधिकारी से निरन्तर सम्पर्क व सामजंस्य स्थापित कर प्रत्येक बैठक की कार्यवृत का अनुपालन प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करायेंगे व रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

IMG-20200806-WA0130

डा0 बोबडे ने सैम्पलिंग कितने हुए व पोर्टल पर कितने फीड किये गये आंकडे में अन्तर पाये जाने पर नाराजगी प्रकट करते हुए अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द यादव को निर्देशित किया कि पोर्टल पर डुप्लीकेसी न होने पाये। उन्होंने जिला डाटा मैनेजर को डाटा कलेक्शन भली प्रकार से करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कोविड-19 के बचाव कार्य में बेहतर प्रदर्शन करने व सप्ताह का बेस्ट फाइटर होने पर चिकित्सा अधीक्षक डा0 एस0पी0 यादव की प्रशंसा की। उन्होंने कोविड से बचाव कार्य में लगे सभी चिकित्साधिकारियों से कहा है कि अच्छे कार्य करने वाले चिकित्सकों को प्रशस्ति मिलेगा।

IMG-20200806-WA0131

मण्डलायुक्त ने कहा कि जनपद में कोविड मरीजों की संख्या न बढने पाये। कान्टेक्ट ट्रेसिंग व सैम्पलिंग के कार्य में तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि होमआइसोलेशन के मरीजों को टेली मेडिसन के माध्यम से भी उचित उपचार कराया जाए। उन्होंने 57 प्राइवेट अस्पतालों में गम्भीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों की सूचना शून्य भेजे जाने पर इसकी रेन्डम चेकिंग कराने व कल शाम तक रिपोट प्रस्तुत करने के निर्देश अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0के0 सिंह को दिये।
बैठक में जिलाधिकारी डॉ0 ब्रम्हदेव राम तिवारी, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, ए0डी0 हेल्थ डा0 आर0पी0 यादव, सहित चिकित्सकगण उपस्थित रहे।