कानपुर से विजय रथ यात्रा लेकर निकले अखिलेश यादव

0
117

खंचाजी नाथ ने पार्टी का झंडा दिखाकर किया रवाना

वेद गप्ता/महेश सोनकर/प्रभात त्रिपाठी

निशंक न्यूज/कानपुर। सपा मुखिया अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव 2022 के लिए चुनावी बिगूल कानपुर से फूंक दिया। जाजमऊ गंगा पुल से अखिलेश यादव ने विजय रथ यात्रा की मंगलवार की दोपहर शुरुआत कर दी। नोटबंदी के समय कानपुर देहात के झींझक में जन्मे खंजाची नाथ ने विजय रथ यात्रा को पार्टी का झंडा दिखाकर रवाना कराया। सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने रथ पर सवार होने के बाद हाथ हिलाते हुए सभी का अभिनंदन किया तो कार्यकर्ताओं ने जोरदार नारेबाजी की।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब सपा की विजय यात्रा निकाली है, तब तब प्रदेश में परिवर्तन आया है। कहा, रथयात्रा के माध्यम से किसानों, बुजुर्गों का आशीर्वाद लेंगे। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसानों के साथ कानून को भी कुचला गया है। उनका प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर पीड़ित परिवारों से मिलने गया है। उन्होंने कहा कि कानपुर यूपी का औद्योगिक शहर है, यहां पर सरकार ने उद्योगों को ठप कर दिया है। इसलिए यात्रा की शुरुआत कानपुर से की गई है।

मंगलवार की दोपहर उद्योग नगरी कानपुर से विजय रथयात्रा की शुरुआत करने के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मंगलवार दोपहर जाजमऊ गंगा पुल सीमा पर पहुंचे तो सपाइयों ने नारेबाजी करके स्वागत किया है। कार्यकर्ताओं में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष की एक झलक पाने की होड़ लगी रही। उनका काफिला लखनऊ से उन्नाव से होकर कानपुर जाजमऊ पुल पर पहुंचा तो मिलने के लिए सपाइयों में धक्कामुक्की शुरू हो गई। वहीं हाईवे पर भी जाम की स्थिति बन गई लेकिन पुलिस ने एक लेन से दोनों छोर के वाहनों को निकालना शुरू कराया है। सपा कार्यकर्ता विजय रथ के साथ सेल्फी लेते रहे। रथयात्रा लेकर अखिलेश घाटमपुर होते हुए बुंदेलखंड के जनपदों में भ्रमण करेंगे और जनता के बीच अपनी उपलब्धियों के साथ भाजपा सरकार की खामियां बताएंगे। देर शाम से जाजमऊ गंगा तट पर रथयात्रा की तैयारियों को पूरा कर लिया गया था।

विजय यात्रा को लेकर जाजमऊ गंगा पुल पर भारी संख्या में कार्यकर्ताओं की भीड़ एकत्र है। कानपुर-लखनऊ हाईवे पर जाम के कारण यातायात रेंग रहा है। पुलिसकर्मी वाहनों को एक-एक लेन से गुजारकर यातायात सुचारु करने की कोशिश कर रहे हैं। कार्यकर्ता अखिलेश के स्वागत के लिए ढोल और पार्टी के झंडे लेकर भीड़ लगाए रहे।

बस के पास पहुंचने के लिए सपा कार्यकर्ताओ की आपस में नोकझोंक हो गई इस दौरान कार्यकर्ता बस के पास पहुंचने को लेकर एक दूसरे से धक्का-मुक्की करने लगे इस दौरान वहां मौजूद पार्टी के पदाधिकारियों ने उन्हें समझाकर शांत कराया।

अखिलेश यादव के आने के बाद रथयात्रा यहां से घाटमपुर होते हुए हमीरपुर से बुंदेलखंड में प्रवेश कर जाएगी। सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम घाटमपुर और हमीरपुर में बैठक करके तैयारियों की समीक्षा कर चुके हैं। मंगलवार सुबह से कानपुर के जाजमऊ गंगा तट से सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की विजय रथयात्रा को लेकर सपाई पहुंचने लगे हैं। यात्रा शुभारंभ स्थल पर सपाइयों की भीड़ एकत्र है, अखिलेश के आते ही यात्रा की शुरुआत होगी। यहां से घाटमपुर होते हुए हमीरपुर पहुंचेंगे। इसके बाद 13 अक्टूबर को हमीरपुर से जालौन होते हुए यात्रा कानपुर देहात पहुंचेगी।

घाटमपुर में नेयवेली पावर प्लांट के पास रामपुर मोड़ पर जनसभा का आयोजन होगा, जहां सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष संबोधित करेंगे। इसके बाद हमीरपुर में पार्टी कार्यालय व कुरारा में जनसभा होगी। झलोखर गांव, मुख्यालय के कालपी चौराहा, अमन शहीद में स्वागत स्थल की तैयारियां की गई हैं। प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के साथ पूर्व सांसद नरेंद्र सिंह पटेल, जिला उपाध्यक्ष अनिल सोनकर वारसी, सपा नेता विजय सचान ने सभी जगह का जायला लेकर ब्लाक अध्यक्षों को जरूरी दिशा निर्देश दिए।

मालरोड में एक होटल में पत्रकार वार्ता में विजय रथयात्रा के प्रभारी और विधान परिषद सदस्य संजय लाठर ने बताया कि जाजमऊ से विजय रथयात्रा निकाली जाएगी, जो प्रदेश भर में भ्रमण करेगी। इसके जरिए सपा मुखिया प्रदेश सरकारी की खामियों को गिनाएंगे, सपा कार्यकाल में कराए गए विकास कार्यों की उपलब्धियां जन-जन तक पहुंचाएंगे। उन्होंने बताया, सपा ध्वस्त कानून व्यवस्था, महंगाई, भ्रष्टाचार और बेरोजगारी को मुद्दा बनाएगी। नगर अध्यक्ष डा. इमरान, विधायक अमिताभ बाजपेयी व इरफान सोलंकी, समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश अध्यक्ष अरविंद गिरी, मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष अनीश राजा, लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष रामकरण निर्मल मौजूद रहे।