वीडियो देख लें जो नहीं होगा उसे छोड़ देंगे

0
498

मनोज यादव

निशंक न्यूज/कानपुर। शहर में उपद्रव के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों की धर पकड़ शुरू कर दी है। इसी के चलते बेगमपुरवा में उपद्रव को लेकर बाबूपुरवा थाना में डीएम व एसएसपी के साथ बैठक में शहरकाजियों ने आरोप लगाया कि बेकसूर युवकों को गोली मारी गई है और अब निर्दोष लोगों को पकड़ा जा रहा है। घटना की सीबीआइ जांच कराई जाए। डीएम और एसएसपी ने कहा कि वीडियो में उपद्रव करते दिखे लोग ही पकड़े गए हैं। वीडियो देख लें, जो नहीं होगा उसे छोड़ देंगे।

डीएम विजय विश्वास पंत, एसएसपी अनंत देव के साथ बैठक में शहरकाजी मौलाना आलम रजा खां नूरी, मौलाना रियाज हशमती, मौलाना मतीनुल हक ओसामा कासिमी, मौलाना हाफिज अब्दुल कुद्दूस हादी, जाजमऊ ईदगाह के पेशइमाम मौलाना हसीब शाहिदी, गद्दियाना ईदगाह के इमाम मौलाना मोहम्मद हाशिम अशरफी, सपा विधायक इरफान सोलंकी व अमिताभ वाजपेयी शामिल हुए। उलमा ने कहा कि मृत युवकों के स्वजनों को 25 लाख रुपये मुआवजा व एक सदस्य को नौकरी दी जाए। घायलों का सरकारी खर्च पर इलाज होना चाहिए। शहरकाजी की इजाजत के बगैर किसी को गिरफ्तार न किया जाए। पुलिस अपनी कार्रवाई तत्काल रोक दे। अधिकारियों ने कहा कि आठ सदस्यीय टीम गठित कर वीडियो देख लें। वीडियो में जो युवक नहीं दिखेगा, उसे रिहा कर दिया जाएगा।