घाटमपुर पावर प्लांट में बिहार के मजदूर की मौत

0
690

सुजीत सिंह

निशंक न्यूज/कानपुर। निर्माणाधीनघाटमपुर पावर प्लांट में मंगलवार को लोहे की प्लेट में दबकर बिहार के मजदूर की मौत हो गई। मौत पर साथी मजदूरों ने हंगामा किया और निर्माण कार्य रोक दिया है। धरना दे रहे मजदूर पीड़ित परिवार को 40 लाख मुआवजा देने की मांग पर अड़े हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस व पीएसी ने मजदूरों को समझाकर शांत कराया।

पावर प्लांट में काम कर रही कंस्ट्रक्शन कंपनी एलएंडटी की अधीनस्थ कंपनी मां शारदा कांस्ट्रक्शन कंपनी में बिहार के रोहतास जिले के तिधौलू थाना के रेडिया गंव निवासी रामचन्द्र यादव (45) मजदूरी करता था। सोमवार को साथी मजदूरों के साथ लोहे की प्लेटों को एक ट्रेलर में चढ़ा रहा था। उसी वक्त एक प्लेट रामचन्द्र पर गिर गई और वह बुरी तरह लहूलुहान हो गया। आनन-फानन में कंपनी के लोगों ने घायल मजदूर को हमीरपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया।  जहां से उसे कानपुर मेडिकल कॉलेज के हैलट अस्पताल रेफर कर दिया गया। हैलट में मजदूर की मौत हो गई।

मौत की जानकारी होते ही मंगलवार को मजूदरों ने कंपनी के लोगों पर अधिक काम कराने, समय से वेतन न देने सहित अन्य आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर पावर प्लांट का सभी कामों बंद करा दिया। रामचन्द्र के शव को पोस्टमार्टम के बाद पावर प्लांट लाने और परिवार को 40 लाख मुआवजा देने की  मांग को लेकर मजदूरों ने नारेबाजी की।  सूचना पर सजेती एसओ राकेश मौर्य पीएसी बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने कंपनी के अधिकारियों के साथ हंगामा कर रहे मजदूरों से वार्ता की । पुलिस ने आश्वासन दिया कि शव प्लांट लाया जाएगा। इसके बाद लोग शांत हुए। मजदूरों के हंगामे की जानकारी पर कई थाने चौकियों की फोर्स मौके पर बुला ली गई थी।