कनपुरिया नवेंद्रु पहुंचे ब्रिटेन की संसद में

0
265

लेबर पार्टी के टिकट पर बने सांसद

कानपुर। ब्रिटेन की संसद में अपने कनपुरिया नवेंद्रु मिश्र भी पहुंच गए हैं। इस उपल्बिध पर कानपुर गौरान्वित है। इनका पैतृक मकान कानपुर के आर्यनगर में है और परिवार के कुछ लोग अभी भी यहां रहता हैं। इनके पिता प्रभात रंजन मिश्र कई साल पहले मुंबई चले गए और वहां से इंग्लैंड में जाकर नौकरी की।

नवेंद्रु मिश्र की पढ़ाई इंग्लैंड में हुई और फिर वह ब्रिटेन की लेबर पार्टी से जुड़ गए। वह लेबर पार्टी के टिकट पर 2017 में भी चुनाव लड़े थे पर सफलता नहीं मिली। इस बार मध्यावधि चुनाव में एक बार फिर लेबर पार्टी ने नवेंद्रु पर भरोसा किया और वह उस पर खरे उतरे। वह अब सांसद बनकर ब्रिटेन की संसद पहुंच गए हैं और जाहिर है कि कहीं न कहीं कनपुरिया नाम वहां गूजेंगा जरूर।

बता दें कि इस बार ब्रिटेन की संसदीय चुनाव में कंजरवेटिव पार्टी ने पूर्ण बहुमत प्राप्त किया है। 650 सीट में 365 सीटें अर्जित कर इतिहास रचा है। इस पार्टी के नेता बोरिस जॉनसन ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। बोरिस ने ब्रेक्जिट (यूरोपीय यूनियन से ब्रिटेन को बाहर रखना) के मुद्दे पर चुनाव लड़ा तो लेबर पार्टी ने बुजुर्गों को पेंशन, सुरक्षा, नौकरी जैसे सवालों को उठाया। लेबर पार्टी ने भारत के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का विरोध किया था। लेकिन लेबर पार्टी वहां रह रहे कोई 14 लाख भारतीय मूल निवासियों का पूरी तरह समर्थन नहीं हासिल कर सकी। लेकिन इस पार्टी के बैनर पर कानपुर के नवेंद्रु मिश्र की शानदार जीत ने कनपुरियों को नहीं, पूरे भारत को गदगद कर दिया है। नवेंद्रु ही नहीं, भारतीय मूल के 14 लोगों को जीत हासिल हुई और वे ब्रिटेन की संसद में पहुंच गए हैं।

दरअसल इंग्लैंड  कंजरवेटिव पार्टी के बोरिस जॉनसन दक्षिणपंथी माने जाते हैं और वह भारत से दोस्ती के पक्ष में हैं। जाहिर है कि उनकी जीत के बाद भारत को किसी हद लाभ मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जॉनसन को उनकी शानदार जीत पर बधाई दी है।